Saturday, 29 June 2013

UPTET : Test of uptet 2013 : मैथ, साइंस ने बिगाड़ा 'गणित'

शुक्रवार को संपन्‍न हुई शिक्षक पात्रता परीक्षा (TET) में कठिन सवालों ने भावी शिक्षकों को उलझा दिया।

विज्ञान वर्ग के अभ्यर्थियों के जहां सवालों के जवाब देने में पसीने छूट गए, वहीं सामान्य वर्ग के अभ्यर्थी भी जूझते नजर आए। उच्च प्राथमिक स्तर के लिए 647873 परीक्षार्थियों ने आवेदन किया था। हालांकि प्रदेश में 870 केंद्रों पर हुई परीक्षा में 96 फीसदी परीक्षार्थियों ने ही हिस्‍सा लिया।

बीएड, बीपीएड, डीपीएड और बीटीसी अभ्यर्थियों के लिए हुई इस परीक्षा में प्रतिभागियों को विज्ञान, गणित और हिंदी के सवालों ने परेशान कर दिया। विज्ञान और गणित के सवाल इंटरमीडिएट स्तर के थे।

इसके कारण मानविकी और बॉयो ग्रुप के छात्रों को कठिनाई हुई।


इलाहबाद में हुई परीक्षा में शामिल अभिषेक, अमित और रोहित ने बताया कि गणित के सवाल काफी उलझाने वाले और समय लेने वाले रहे।

विज्ञान में प्रश्नों का स्तर भी इंटरमीडिएट स्तर का रहा। हिन्दी में 30 में से लगभग 15 प्रश्न लेखक और रचनाकार से जुड़े थे। एक ही पैटर्न पर प्रश्न पूछने से परीक्षार्थी परेशान हुए।

सेकंड लैंग्वेंज के तौर पर इंग्लिश में भी सामान्य सवालों की जगह साहित्य के सवाल अधिक संख्या में पूछे गए। अंग्रेजी, बाल विकास एवं अभिज्ञान के प्रश्न राहत देने वाले रहे।

ऑस्‍कर और आईपीएल से पूछे सवाल
प्रश्नपत्र में सामान्य वर्ग के अभ्यर्थियों से 83वें ऑस्कर अवार्ड जुडे सवाल पूछे गए। अभ्यिर्थियों के लिए इन सवालों का जवाब देने में कठिनाई हुई।

पहली अंडर ग्राउंड ट्रेन कहां चली थी, इसका जवाब भी अधिकांश अभ्यर्थी नहीं दे पाए, लेकिन कुछ सवाल जैसे आईपीएल किस खेल से संबंधित है? भारत का राष्ट्रीय खेल क्या है? जैसे हल्के सवाल भी प्रश्न पत्र में पूछे गए।

ये रहे मुख्य सवाल

सोने का लैटिन नाम क्या है?
उत्तर प्रदेश के विधानसभा अध्यक्ष कौन हैं?
कौन सा जानवर देश में विलुप्त हो गया?
योजना आयोग के उपाध्यक्ष कौन हैं?
‘पिता’ कहानी के लेखक कौन हैं?
‘आवारा मसीहा’ जीवनी में किसका जीवन चरित है?
‘हिंदी नये चाल में ढली’ कथन किसका है?
‘हम दीवानों की क्या हस्ती है, आज यहां कल वहां चले’, ये पंक्तियां किसकी हैं?

No comments:

Post a Comment