Monday, 1 July 2013

UPTET 2011 : टीईटी पास अभ्यर्थियों को दी जाए नियुक्ति

BJP State Spokesman Dr. Manoj Mishra said - It is highly injustice happen with UPTET 2011 candidates, Who applied for 72000 posts and paid recruitment fees heavily. Therefore UP Govt. first fill those 72000 posts and return extra money to candidate.

लखनऊ (डीएनएन) भाजपा ने प्रदेश में कराई जा रही टीईटी की परीक्षा पर सवालिया निशान लगाया है। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता डॉ. मनोज मिश्र ने टीईटी परीक्षा को अव्यवहारिक बताया और कहा कि पिछली टीईटी परीक्षा में उत्तीर्ण हुए 72000 से अधिक अभ्यार्थियों को अभी तक तैनाती नहीं मिली है। पिछली सरकार के भ्रष्टाचार के कारण प्रदेश के टीईटी में भाग लेने वाले अभ्यर्थियों के साथ घोर अन्याय हुआ है। सपा सरकार को चाहिए कि पहले उन अभ्यर्थियों और उत्तीर्ण हुए अभ्यर्थियों के साथ न्याय किया जाए। उन्हें तत्काल तैनाती दी जाए।
पार्टी प्रवक्ता ने सपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार एक तरफ प्राइमरी शिक्षा के लिए संविदा शिक्षकों की नियुक्ति कर रही है और दूसरी ओर टीईटी की परीक्षा करवा रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि पिछली टीईटी परीक्षा में लाखों छात्र शामिल हुए थे। सभी अभ्यर्थियों ने 500 रुपए प्रति स्थान के हिसाब से लगभग 20,000 रुपए फीस दी थी। सपा सरकार ने वादा किया था कि मात्र 500 रुपए छोड़कर शेष धनराशि अभ्यर्थियों को वापस कर दी जाएगी। उन्होंने सरकार से कहा कि बेरोजगार अभ्यर्थियों को तत्काल उनकी शेष धनराशि वापस की जाए। कुल मिलाकर प्रदेश भर में टीईटी अभ्यर्थियों में निराशा का भाव है और सरकार रोज-रोज नए प्रयोग कर प्राइमरी के साथ खिलवाड़ कर रही है


No comments:

Post a Comment